Shayari

पंछी पर शायरी | Birds Shayari

Birds Shayari Status Quotes Thoughts Poem in Hindi

Birds Shayari – जब हम सुबह उठते है तो चिड़ियों की चहचहाट सुनकर दिल खुश हो जाता है. इस पोस्ट में पंछी पर शायरी ( Birds Shayari ) दिए हुए है. इन्हें जरूर पढ़े.

पक्षी किसे कहते है? जो जीव अपने पंख के द्वारा हवा में उड़ सकते है उन्हें पक्षी कहा जाता है. इस धरती पर पंक्षी की लगभग 10,000 प्रजातियाँ पाई जाती है. अधिकत्तर पंछी आकाश में उड़ सकते है परन्तु कुछ ऐसे पंक्षी भी होते है जो आकाश में नहीं उड़ सकते है. पंछी अपने भोजन में फल, फूल, पौधों, बीज, सड़ा हुआ मांस, कीड़े-मकौड़े आदि खाते है. पंछियों के दांत नहीं होते है इसलिए वो अपने भोजन को पूरी तरह निगल जाते है.

पंछी पर शायरी | Birds Shayari

बंद पिंजरों में पंछियों की उम्र कम हो जाती है,
जिसे देखकर एक शायर की आँखे नम हो जाती है.


इंसान चाहता है कि उसे उड़ने को पर मिले,
परिंदा चाहता है कि उसे रहने को घर मिले।


कौन पूछता है पिंजरे में बंद पंछियों को,
याद वही आते है जो उड़ जाते है.


मेरा हौसला भी आसमान छूने लगता है
कई छोटी-बड़ी बातों को सोचकर,
उस छोटी सी चिड़ियाँ का गिरकर उड़ना और
उसका अपने पंखों पर विश्वास देखकर।


पंछी शायरी हिंदी | Panchi Shayari Hindi

उस परिन्दे का बड़ा ही नाम होगा,
जो आसमान को छूने में नाकाम होगा।


अपनी ख़्वाहिशों का गुलाम इंसान
गुलामी की जिंदगी जीने लगा है,
पंछी तो आसमान में उड़ते ही अच्छे लगते है
अब तो इंसान पिंजरों में उन्हें भी बंद करने लगा है.


इंसान ने अपना घर बनाने के चक्कर में
पेड़ो को काट दिया और मेरा घर उजाड़ दिया
घर के दीवारों को देखता पंछी
पूरी रात यही सोचते-सोचते गुजार दिया।


पंछियों की चहचहाहट सुनाई नहीं देती है,
सुना है अब ये शहर बड़ा तरक्की कर रहा है.


1 2 3Next page

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close